• Name
  • Email
शनिवार, 15 दिसम्बर 2018
 
 

टीवी चैनल पर दिखने वाला एंकर असली है या नकली, पता करना मुश्किल होगा

शनिवार, 10 नवम्बर, 2018  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
चीन में यह पता लगाना मुश्किल होगा कि समाचार टीवी चैनल पर दिखाई देने वाला व्यक्ति असली है या फिर मशीन है। दरअसल चीन की सरकारी समाचार एजेंसी 'शिन्हुआ' में अब आभासी एंकर खबर पढ़ते नजर आएंगे। कंपनी ने दर्शकों के सामने गुरुवार को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधारित एक आभासी समाचार वाचक पेश किया।

रोचक बात यह है कि इसे देखकर यह अंदाजा लगाना मुश्किल है कि यह वास्तविक इंसान नहीं है। यह एंकर ठीक पेशेवर न्यूज एंकर की तरह खबरें पढ़ सकता है। माना जा रहा है कि हमारी जिंदगी में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मौजूदगी का यह नया अध्याय है। अंग्रेजी बोलने वाला यह न्यूज रीडर अपनी पहली रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए बोलता है, 'हैलो, आप देख रहे हैं इंग्लिश न्यूज कार्यक्रम।'

सोगो ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका
शिन्हुआ के लिए इस तकनीक को विकसित करने के लिए चीनी सर्च इंजन 'सोगो' ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। आभासी समाचार वाचक अपने पहले वीडियो में कहता है, ''मैं आपको सूचनाएं देने के लिए लगातार काम करूंगा क्योंकि मेरे सामने लगातार शब्द टाइप होते रहेंगे। मैं आपके सामने सूचनाओं को एक नए ढंग से प्रस्तुत करने वाला अनुभव लेकर आऊंगा।''

3डी मॉडल पर आधारित
विशेषज्ञों ने असली इंसान के 3डी मॉडल का इस्तेमाल करते हुए आभासी एंकर तैयार किया और इसके बाद एआई तकनीक के माध्यम से आवाज और हावभाव को तैयार किया गया। दिखने में यह हूबहू इंसानों जैसा लगे, इसके लिए काफी मेहनत की गई है। कपड़ों से लेकर होंठों के हिलने जैसी छोटी-छोटी बातों पर भी काफी ध्यान दिया गया है।

24 घंटे काम करने में सक्षम
यह आभासी एंकर बिना थके 24 घंटे काम करने में समक्ष है। इसे तैयार करने के पीछे कंपनी की मंशा भी समाचार वाचकों को कम कर पैसा बचाना है। जिस ढंग से यह एंकर समाचार पढ़ता है, उसे देखकर इसे समाचार वाचकों की नौकरी पर खतरा माना जा सकता है।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
रणदीप सिंह सुरजेवाला ने हैदराबाद, तेलंगाना में मीडिया को संबोधित किया ..
लाइव: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हैदराबाद, तेलंगाना में मीडिया को संबोधित किया ..
 

खेल

 

देश

 
लाइव: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हैदराबाद, तेलंगाना में मीडिया को संबोधित किया ..
 
झूठे तथ्यों को पेश करना और तथ्यों को विकृत करना पीएम मोदी के डीएनए का हिस्सा है। इस वीडियो को देखिये ..