• Name
  • Email
शुक्रवार, 22 फ़रवरी 2019
 
 

जम्मू-कश्मीर विधानसभा भंग : कांग्रेस-एनसी-पीडीपी ने सवाल उठाए

बुधवार, 21 नवम्बर, 2018  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने विधानसभा भंग करने की घोषणा की। इसके बाद जम्मू-कश्मीर में राजनीति गरम हो गई है। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इसे हड़बड़ी में राज्यपाल की तरफ से उठाया गया कदम बताया। उमर अब्दुल्ला ने कहा कि हम पिछले पांच महीने से विधानसभा भंग करने को कह रहे थे तो फिर अब अचानक क्यों भंग किया गया?

जम्मू-कश्मीर विधानसभा भंग करने पर कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज ने कहा, ''महबूबा जी को कोर्ट जाना चाहिए क्योंकि राज्यपाल ने जो किया है, वह असंवैधानिक और अलोकतांत्रिक है। कांग्रेस और नेशनल कॉन्फ्रेंस के समर्थन के बाद महबूबा ने राज्यपाल को पत्र लिखा था। ऐसे में उन्हें एक मौका दिया जाना चाहिए।''

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने कहा कि उनकी पार्टी पिछले पांच महीने से विधानसभा को भंग करने का दबाव डाल रही थी। ऐसे में यह संयोग नहीं हो सकता है कि जब महबूबा मुफ्ती ने सरकार बनाने का दावा किया, उसके फौरन बाद विधानसभा को भंग करने का फैसला किया गया।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
भारत में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में बृहस्पतिवार को जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से...
लाइव : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात के वलसाड में जन आक्रोश रैली को संबोधित किया ..
 

खेल

 

देश

 
राफेल डील स्कैम पर कांग्रेस मुख्यालय में पी चिदंबरम द्वारा एआईसीसी प्रेस वार्ता। इस वीडियो को ..
 
न्यूज एजेंसी भाषा ने अधिकारियों के हवाले से खबर जारी की है कि यह 2016 में हुए उरी हमले के बाद सबसे भीषण ..