• Name
  • Email
बुधवार, 20 नवम्बर 2019
 
 

1100 कंपनियां डाटा के गलत इस्तेमाल के खिलाफ एकजुट हुईं

वृहस्पतिवार, 24 जनवरी, 2019  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
डाटा के गलत इस्तेमाल के खिलाफ एकजुट हुईं दुनिया की 1100 कंपनियों ने डिजिटल घोषणा पर हस्ताक्षर किए हैं। कंपनियों ने संकल्प लिया है कि वे डिजिटल उपभोक्ताओं के डाटा की गोपनीयता बनाए रखेंगी और किसी के भी निजी डाटा का गलत इस्तेमाल नहीं होने देंगी।

भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल समेत 750 दूरसंचार ऑपरेटरों और 350 टेक कंपनियों ने इस मुहिम में हाथ मिलाया। दूरसंचार कंपनियों के अंतरराष्ट्रीय संगठन जीएसएमए ने इस घोषणापत्र को जारी किया। संकल्प में कहा गया कि डिजिटल युग में डिजिटल तरीके से काम करने वाले नागरिकों, उद्योगों और सरकारों के लिये जो भी अहम होगा, कंपनियां उसे उपलब्ध कराने में मदद करेगी। जीएसएमए ने कहा कि 2022 तक सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 60 प्रतिशत का डिजिटलीकरण हो जाने की उम्मीद है। 5जी प्रौद्योगिकी के आने से इसमें और तेजी आयेगी।

इस घोषणा का उद्देश्य कंपनियों को नागरिकों की निजता का सम्मान करने के लिए बढ़ावा देना, व्यक्तिगत आंकड़ों को सुरक्षित रखना और पारदर्शी तरीके से संभालना; साइबर खतरों को कम करने के लिए सार्थक कदम उठाना इत्यादि है। मित्तल ने कहा कि उद्योग के लिए यह आवश्यक है कि वह जरूरी निवेश के जरिए एक स्थायी डिजिटल तंत्र स्थापित करें और आंकड़ों की निजता को लेकर पारदर्शी और जिम्मेदारीपूर्ण रवैया अपना कर नागरिकों का भरोसा बरकरार रखे।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
बाबरी मस्जिद लगभग 450-500 सालों से वहां थी। यह मस्जिद 6 दिसंबर 1992 में तोड़ दी गई। मस्जिद का तोड़ा ..
पहले अयोध्या सिर्फ़ एक क़स्बा था लेकिन अब फ़ैज़ाबाद ज़िले का नाम ही अयोध्या हो गया है। तो क्या...
 

खेल

 

देश