• Name
  • Email
शनिवार, 30 मई 2020
 
 

नागरिकता संशोधन क़ानून: सीलमपुर में प्रदर्शनों के दौरान 15 पुलिसवाले घायल

मंगलवार, 17 दिसम्बर, 2019  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
दिल्ली पुलिस के संयुक्त आयुक्त आलोक कुमार ने कहा है कि सीलमपुर की घटना में 21 लोग घायल हुए हैं, जिनमें 12 दिल्ली पुलिस के और तीन रैपिड एक्शन फ़ोर्स के हैं। पाँच लोगों को हिरासत में लिया गया है। दो पुलिस बूथ को नुक़सान पहुँचा है। पुलिस ने कोई लाठीचार्ज नहीं किया है। न ही कोई गोली चलाई गई है। सिर्फ़ आंसू गैस के गोले छोड़े गए हैं। स्थिति अब नियंत्रण में है।

जामिया मिल्लिया इस्लामिया हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस के पूर्व विधायक आसिफ़ ख़ान के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज की है।

मोदी सरकार में केंद्रीय रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी ने कहा है कि वे ज़िला प्रशासन और रेलवे अधिकारियों को चेतावनी देते हैं कि अगर कोई भी सरकारी संपत्ति को नुक़सान पहुँचाता है, तो मैं एक मंत्री होने के नाते उन्हें निर्देश देता हूँ कि उन्हें देखते ही गोली मार दें।

दिल्ली के सीलमपुर इलाक़े में मंगलवार को प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। पुलिस को प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। आरोप है कि प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पत्थर फेंके। रविवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया, जुलेना, न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी, भरत नगर और मथुरा रोड इलाके में काफ़ी हंगामा हुआ था।

दिल्ली के साकेत कोर्ट ने जामिया मिल्लिया इस्लामिया में हुई हिंसा के मामले में छह अभियुक्तों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तरुण गोगोई ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में ध्रुवीकरण के लिए जिन्ना का रास्ता अपना रहे हैं। नागरिकता संशोधन क़ानून के माध्यम से केंद्र हिंदू राष्ट्र बनाने की कोशिश कर रहा है।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि पुलिस ने जिस तरह शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की, उससे उन्हें काफ़ी पीड़ा हुई है।

दिल्ली पुलिस के पीआरओ एम एस रंधावा ने सीलमपुर में हुई झड़प पर कहा कि सीलमपुर में हालात नियंत्रण में हैं। हालात पर हमलोग की नज़र बनी हुई है। हमलोग इलाक़े का सीसीटीवी फुटेज देख रहे हैं। वीडियो रिकॉर्डिंग भी हुआ है।

भारत के राष्ट्रपति से मिलने गईं कांग्रेस प्रेजिडेंट सोनिया गांधी ने कहा कि नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर पूर्वोत्तर भारत में शुरू हुआ विरोध-प्रदर्शन पूरे देश में फैल गया है। सोनिया ने कहा कि बहुत ही गंभीर हालात हैं और डर है कि हालात बेकाबू न हो जाएं। कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि शांतिपूर्ण प्रदर्शनों के साथ पुलिस ग़लत तरीक़ा अपना रही है।

दिल्ली में विरोध-प्रदर्शनों के बीच विपक्षी पार्टियों के नेता कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी के नेतृत्व में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिले। सोनिया गांधी ने राष्ट्रपति से मोदी सरकार की शिकायत की और कहा कि शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को सरकार कुचलने की कोशिश कर रही है। सोनिया गांधी ने कहा कि लोकतंत्र में लोगों की आवाज़ नहीं दबाई जा सकती।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सीलमपुर वालों से शांति की अपील की। नए नागरिकता संशोधन क़ानून पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, ''मेरी सभी दिल्लीवासियों से अपील है कि शांति बनाए रखें। एक सभ्य समाज में किसी भी तरह की हिंसा बर्दाश्त नहीं की जा सकती। हिंसा से कुछ हासिल नहीं होगा। अपनी बात शांति से कहनी है।''

पुलिस का कहना है कि हालात नियंत्रण में हैं लेकिन तनाव अब भी बना हुआ है। कई मेट्रो स्टेशन बंद कर दिए गए हैं। पुलिस का कहना है कि इलाक़े की शांति समिति ने लोगों से घर में रहने की अपील की है।

दिल्ली के जॉइंट सीपी आलोक कुमार ने कहा, ''सीलमपुर टी पॉइंट पर एक घंटे तक शांतिपूर्ण विरोध-प्रदर्शन हुआ। प्रदर्शनकारियों में से ही कुछ लोगों ने पत्थरबाजी शुरू की। मदरसों और मस्जिदों से शांति की अपील की गई है। अब हालात नियंत्रण में हैं। कुछ पुलिस वाले ज़ख़्मी हुए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एक हज़ार से ज़्यादा प्रदर्शनकारी सड़क पर उतरे थे। प्रदर्शन के दौरान ही पुलिस और प्रदर्शनकारियों में झड़प हुई। डीएमआरसी के अनुसार सीलमपुर और गोकुलपुरी मेट्रो स्टेशन की एंट्री और एग्ज़िट को बंद कर दिया गया है।

इसके अलावा वेलकम, जाफ़राबाद, मौज़पुर और बाबरपुर मेट्रो स्टेशन भी बंद कर दिए गए हैं। डीटीसी की एक बस को भी नुकसान पहुंचाया गया है।

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार इस झड़प में दो पुलिसकर्मी ज़ख़्मी हुए हैं। कहा जा रहा है कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन क़ाबू से बाहर हो गया। टीवी फुटेज में दिख रहा है कि पुलिसकर्मियों के सामने लोगों की भारी भीड़ है। बसों और कारों को नुक़सान पहुंचा है और सड़क पर ईंट-पत्थर बिखरे हुए हैं। उत्तर-पूर्वी दिल्ली के इस इलाक़े में सड़कों पर कई बैरिकेड लगाए गए हैं।

दिल्ली के सीलमपुर में नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ़ विरोध-प्रदर्शन हिंसक हो गया है। पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हुई है। इस दौरान एक स्कूल बस को नुक़सान पहुंचा है और एक पुलिस चौकी में आग लगा दी गई है। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठी चार्ज किया है और आंसू गैस के गोले छोड़े गए हैं।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
भारत में कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि आर्थिक पैकेज पर केंद्र सरकार का ..
इसराइल का विरोध शिया बहुल ईरान में एक बड़ा मुद्दा है। इसराइल के साथ शांति का विरोध करने वाले फ़लस्तीनी ..
 

खेल

 

देश

 
भारत में कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि आर्थिक पैकेज पर केंद्र सरकार का ..
 
भारत में रेल मंत्रालय ने कहा है कि देश के विभिन्न हिस्सों को जोड़ने वाली 230 ट्रेनों में सभी श्रेणियों के...