• Name
  • Email
बुधवार, 28 जुलाई 2021
 
 

रिया चक्रवर्ती पर एफआरआई दर्ज़, पहुंचीं सुप्रीम कोर्ट

वृहस्पतिवार, 30 जुलाई, 2020  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट से अनुरोध किया है कि उसके ख़िलाफ़ पटना में दर्ज मामले को मुंबई ट्रांसफर किया जाए।

रिया ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जाँच मुंबई पुलिस पहले से ही कर रही है और उन्होंने अपना बयान भी पुलिस के सामने दर्ज कराया है।

सुशांत के पिता ने 25 जुलाई को पटना के राजीव नगर थाने में रिया के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज कराई थी।

रिया ख़ुद को सुशांत की गर्लफ़्रेंड बताती है लेकिन सुशांत के पिता ने आरोप लगाया है कि उनके बेटे की मौत रिया के कारण हुई है।

सुशांत की मौत की जांच सीबीआई से कराने की भी मांग हो रही है। हालांकि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बुधवार को कहा कि सुशांत सिंह मामले की जांच उनकी सरकार सीबीआई को नहीं सौंपेगी।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में उनके पिता के वकील विकास सिंह ने कहा है कि पटना पुलिस एफ़आईआर दर्ज करने में हिचक रही थी, लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और मंत्री संजय झा के कहने पर एफ़आईआर दर्ज हुई।

विकास सिंह पूर्व एडिशनल सॉलिसिटर जनरल हैं और सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील हैं। 25 जुलाई को ही सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने पटना में सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ़्रेंड रहीं रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज कराई है।

पटना के राजीव नगर थाने में ये एफ़आईआर 25 जुलाई को ही दर्ज कराई गई थी। सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ़ एफ़आईआर में पैसा ऐंठने और आत्महत्या के लिए उकसाने की बात कही है।

14 जून को सुशांत सिंह अपने बांद्रा स्थित घर में मृत पाए गए थे, पुलिस का कहना था कि सुशांत ने आत्महत्या की है। इस मामले की जाँच मुंबई पुलिस भी कर रही है। मुंबई पुलिस ने इस मामले में रिया चक्रवर्ती समेत हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री की कई नामचीन हस्तियों से पूछताछ की है। इनमें महेश भट्ट से लेकर संजय लीला भंसाली तक शामिल हैं।

सुशांत के पिता के वकील विकास सिंह ने कहा, ''हम चाहते हैं कि पटना पुलिस इस मामले की जाँच करे। परिवार ने अभी तक सीबीआई जाँच की मांग नहीं की है।'' उन्होंने बताया कि शुरू में सुशांत के परिजन सदमे में थे और मुंबई पुलिस उनकी एफ़आईआर दर्ज नहीं कर रही थी।

उन्होंने आरोप लगाया कि मुंबई पुलिस सुशांत के परिजनों पर बड़े प्रोडक्शन हाउस का नाम लेने का दबाव डाल रही थी और ये मामले अलग दिशा में जा रहा था।

विकास सिंह ने कहा कि अब पटना में एफ़आईआर दर्ज हो गई है। उन्होंने कहा, ''मुंबई पुलिस इस मामले में जाँच को भटका रही थी। हम पूरी जाँच चाहते हैं ताकि सच्चाई बाहर आ सके।''

पिछले दिनों रिया चक्रवर्ती ने ट्वीट कर भारत के केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जाँच सीबीआई से कराने की मांग की थी। उन्होंने लिखा था- सर, मैं सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ़्रेंड हूं। सुशांत की मौत के एक महीने गुज़र गए। मुझे सरकार में पूरा भरोसा है। मैं चाहती हूं कि इस मामले में इंसाफ़ सुनिश्चित हो, इसलिए इसकी जांच सीबीआई से कराई जाए। मैं बस ये जानना चाहती हूं कि सुशांत ने किस दबाव में इतना बड़ा क़दम उठाया।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री में भाई-भतीजावाद पर भी ख़ूब बहस हुई। अभिनेत्री कंगना रनौत ने कई गंभीर आरोप लगाए, तो अनुराग कश्यप जैसे कई निर्देशकों ने इसे ख़ारिज भी किया। कई आरोप व्यक्तिगत भी हुए और लोगों ने एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप भी लगाए।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
भारतीय संसद के उच्च सदन राज्यसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सरकार को कोरोना महामारी पर कठघरे में खड़ा करते हुए सवाल किया। शिवसेना नेता संजय राउत ने भी राज्य सभा में ...
फ़िल्म अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति व व्यवसायी राज कुंद्रा को मुंबई की एक अदालत ने 23 जुलाई 2021 तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है। राज कुंद्रा के अतिरिक्त एक और शख़्स रायन थार्प को ...
 

खेल

 
ओलंपिक खेलों का शुभारंभ शुक्रवार, 23 जुलाई 2021 को होना है और इससे पहले ओलंपिक से जुड़े 70 से ज़्यादा लोग कोरोना पॉज़िटिव पाए गए हैं। जुलाई 2021 की शुरुआत में जापान ने ऐलान ...
 
टोक्यो ओलंपिक 2020 में मंगलवार, 27 जुलाई, 2021 को बरमुडा की एथलीट फ़्लोरा डफी ने ट्रायथलोन इवेंट में गोल्ड मेडल हासिल किया है। डफी की जीत के साथ ही बरमुडा दुनिया में गोल्ड मेडल ...
 

देश

 
भारतीय संसद के उच्च सदन राज्यसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सरकार को कोरोना महामारी पर कठघरे में खड़ा करते हुए सवाल किया। शिवसेना नेता संजय राउत ने भी राज्य सभा में ...
 
'पेगासस का बाप कौन?' शीर्षक से लिखे इस संपादकीय में गृहमंत्री अमित शाह के उस बयान पर भी निशाना साधा गया है, जिसमें उन्होंने पेगासस जासूसी वाली रिपोर्ट को 'अंतरराष्ट्रीय साज़िश' बताया था ...