• Name
  • Email
शुक्रवार, 23 अक्टूबर 2020
 
 

राहुल गाँधी: जवानों को बुलेट प्रूफ़ गाड़ी नहीं, पीएम को करोड़ों का हवाई जहाज़

शनिवार, 10 अक्टूबर, 2020  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
भारत में कांग्रेस पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और नेता राहुल गांधी ने एक वीडियो शेयर करते हुए मोदी सरकार में जवानों की स्थिति को लेकर सवाल उठाया है।

राहुल गांधी ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें ट्रक के अंदर बैठे कुछ जवान आपस में बात करते हुए उन्हें नॉन बुलेट प्रूफ़ गाड़ी में भेजने की शिकायत कर रहे हैं।

इस वीडियो को ट्वीट करते हुए राहुल गांधी ने लिखा है, ''हमारे जवानों को नॉन-बुलेट प्रूफ़ ट्रकों में शहीद होने भेजा जा रहा है और पीएम के लिए 8,400 करोड़ का हवाई जहाज़! क्या यह न्याय है?''

इस वीडियो में क्या है?

इस वीडियो में ट्रक में बैठा एक जवान कह रहा है, ''नॉन बुलेट प्रूफ गाड़ी में भेजकर हमारी जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। ये नॉन बीपी (बुलेट प्रूफ) गाड़ी में आदमी जा रहा है, यहां बीपी गाड़ी में आदमी सुरक्षित नहीं है और ये नॉन बीपी में लेकर जा रहे हैं। हम लोगों की ज़िंदगी से खिलवाड़ किया जा रहा है। बोलने के बाद भी जबरदस्ती थोपा जा रहा है।'' इस जवान ने अपना चेहरा कपड़े से ढंका हुआ है।

इसी बीच दूसरा जवान बोलता है कि ये बताना कमांडर का काम है।

फिर से पहले जवान ने कहा, ''कमांडर नहीं बताएगा तो हम जानबूझकर अपनी ज़िंदगी बर्बाद कर रहे हैं ना। कमांडर को क्या ज़रूरत है बोलने की, वो तो नहीं बोलेगा। ओसी साहब अपने पांच आदमी को लेकर अपने बीपी ... उसमें और 10 आदमी जा सकते हैं ना। पूरे सेक्शन को ले चलें उसी में। जो मरने वाला है उसे यहां छांटकर भेज दिया है जाओ मरो इसमें।''

जवान ट्रक को अंगुली ठोककर बोल रहा है कि ये क्या है इसमें, पत्थर मारेगा तो इस पार हो जाएगा।

तब एक और जवान कैमरे के सामने आकर कहता है, ''बहुत बेकार व्यवस्था है। पूरी गाड़ी कबाड़ा दे रखा है। ओसी और इंस्पेक्टर खुद बुलेटप्रूफ में जाते हैं और टीम को बोल देता है कि नॉन बीपी में जाओ।''

इसी कड़ी में पिछला जवान कहता है, ''बोल रहा है कि गाड़ी कहां से लाऊं। अरे आप व्यवस्था करो ना, आपका काम है। ड्यूटी पर ले जा रहे हो, हम लोगों की ज़िंदगी के साथ खेल रहे हो। हमारे परिवारों की ज़िंदगी के साथ खेल रहे हो। सरकार अगर हमसे ड्यूटी करा रही है तो हमें व्यवस्था देगी।''

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में इस वीडियो के स्रोत की जानकारी नहीं दी है। साथ ही ये भी स्पष्ट नहीं है कि ट्रक में बैठे जवान सेना के हैं या अर्धसैनिक बलों के। वो किस इलाक़े में हैं और कहां ड्यूटी करने जा रहे हैं ये भी नहीं बताया गया है।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
किसी भी देश की जीडीपी इस बात पर निर्भर करती है कि लोगों और सरकार के पास पैसा ख़र्च करने के लिए कितना है।...
तुर्की ने पिछले कुछ सालों में अपनी सुरक्षा के लिए काफ़ी ख़र्च किया है और कर रहा है। तुर्की में...
 

खेल

 

देश

 
भारतीय नौसेना के पूर्व प्रमुख एडमिरल रामदास समेत भारत के क़रीब 120 सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारियों ने भारत...
 
भारत में सुप्रीम कोर्ट ने रिपब्लिक टीवी की टीआरपी मामले की जाँच सीबीआई से करवाने की आग्रह वाली याचिका...