• Name
  • Email
शुक्रवार, 23 अक्टूबर 2020
 
 

टीआरपी छेड़छाड़ मामला: रिपब्लिक टीवी को हाई कोर्ट जाना चाहिए - सुप्रीम कोर्ट

वृहस्पतिवार, 15 अक्टूबर, 2020  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
भारत में सुप्रीम कोर्ट ने रिपब्लिक टीवी की टीआरपी मामले की जाँच सीबीआई से करवाने की आग्रह वाली याचिका को स्वीकार करने से इनकार कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने उनसे पहले हाई कोर्ट जाने के लिए कहा है।

सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की खंडपीठ की अध्यक्षता करते हुए न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ ने टिप्पणी की कि चैनल को जाँच का सामना करने वाले किसी भी दूसरे साधारण नागरिक की तरह पहले बॉम्बे हाई कोर्ट जाना चाहिए।

न्यायाधीश चंद्रचूड़ ने साथ ही हाल के समय में पुलिस अधिकारियों के मीडिया को इंटरव्यू देने पर भी चिंता जताई।

उन्होंने कहा, ''हम इन दिनों पुलिस कमिश्नरों के इंटरव्यू देने के चलन से चिंतित हैं।''

मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक टीवी की याचिका का ये कहते हुए विरोध किया था कि चैनल पुलिस जाँच को रूकवाने की कोशिश कर रहा है।

पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट में देर रात दायर अपनी एक याचिका में कहा, ''रिपब्लिक टीवी का जाँच को सीबीआई को सौंपने की माँग ग़लत है। वो टीआरपी रेटिंग्स में घपले की जाँच को रुकवाना चाहता है। मीडिया ट्रायल जाँच की स्वतंत्र और निष्पक्ष जाँच के विरुद्ध है। अर्णब गोस्वामी ऐसे कार्यक्रम पेश कर रहे हैं जिसमें इस मामले पर विस्तार से बहस होती है, गवाहों से संपर्क किया जाता है और उनके साथ हस्तक्षेप और डराया धमकाया जाता है।''

मुंबई पुलिस टीआरपी रेटिंग्स के साथ कथित छेड़छाड़ के इस मामले में रिपब्लिक टीवी के अलावा दो अन्य चैनलों - फ़ख़्त मराठी और बॉक्स सिनेमा - की भी जाँच कर रही है।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
किसी भी देश की जीडीपी इस बात पर निर्भर करती है कि लोगों और सरकार के पास पैसा ख़र्च करने के लिए कितना है।...
तुर्की ने पिछले कुछ सालों में अपनी सुरक्षा के लिए काफ़ी ख़र्च किया है और कर रहा है। तुर्की में...
 

खेल

 

देश

 
भारतीय नौसेना के पूर्व प्रमुख एडमिरल रामदास समेत भारत के क़रीब 120 सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारियों ने भारत...
 
भारत में सुप्रीम कोर्ट ने रिपब्लिक टीवी की टीआरपी मामले की जाँच सीबीआई से करवाने की आग्रह वाली याचिका...