• Name
  • Email
रविवार, 20 जून 2021
 
 

कोरोना महामारी में अपने अभिभावक खोये बच्चों के लिए मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया

रविवार, 30 मई, 2021  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का दूसरा साल पूरा होने के मौके पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार, 29 मई 2021 को उन बच्चों के लिए कई कल्याणकारी फ़ैसलों की घोषणा की जिन्होंने इस कोरोना महामारी में अपने अभिभावक खो दिए।

इसके तहत अब ये बच्चे जब 18 साल के होंगे तो उनके लिए 10 लाख रुपये की रक़म सुनिश्चित की गई है। साथ ही उनकी शिक्षा के लिए भी प्रावधान किया गया है।

ऐसे बच्चों की मदद के लिए क्या क़दम उठाए जा सकते हैं, इस पर हुई एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा कि इन्हें 'पीएम केयर्स फ़ॉर चिल्ड्रेन' योजना के तहत मदद उपलब्ध कराई जाएगी।

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी किए गए बयान में बताया गया है कि ऐसे बच्चों के नाम फिक्स्ड डिपोजिट खाते खोले जाएंगे और इसके लिए पीएम केयर्स फंड से पैसा दिया जाएगा। इसके तहत 10 लाख रुपये की रक़म उनकी 18 साल की उम्र पूरा होने पर दिया जाएगा।

18 साल की उम्र पूरी हो जाने पर इन बच्चों को हर महीने वित्तीय मदद या वज़ीफ़े के तौर पर अगले पांच साल के लिए कुछ रक़म मिलती रहेगी। इस पैसे से वे अपनी उच्च शिक्षा के दौरान निजी ज़रूरतें पूरी कर सकेंगे। 23 साल की उम्र हो जाने पर उन्हें एक निश्चित रक़म एकमुश्त रूप से मिलेगी जिसका वे पेशेवर या निजी इस्तेमाल कर सकेंगे।

इन बच्चों की शिक्षा के लिए उठाए गए क़दमों का ज़िक्र करते हुए प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया है कि दस साल से छोटी उम्र के बच्चों को नज़दीक के केंद्रीय विद्यालय या प्राइवेट स्कूल में दाखिला कराया जाएगा।

जो बच्चे 11 साल से 18 साल की उम्र के बीच के हैं, उन्हें केंद्र सरकार के आवासीय स्कूलों जैसे सैनिक स्कूल और नवोदय विद्यालय में दाखिला दिया जाएगा। अगर ये बच्चे अपने विस्तृत परिवार की निगरानी में रहते हैं तो वे नज़दीक के केंद्रीय विद्यालय या प्राइवेट स्कूल में दाखिला करा सकेंगे।

अगर बच्चे का दाखिला प्राइवेट स्कूल में कराया जाता है तो उसकी फीस शिक्षा के अधिकार कानून के तहत पीएम केयर्स फंड से दी जाएगी। इसके तहत बच्चे की यूनिफॉर्म, किताबें और नोटबुक्स के खर्च का वहन भी किया जाएगा।

उच्च शिक्षा के लिए बच्चे मौजूदा प्रावधानों के तहत एजुकेशन लोन ले सकेंगे और इसका ब्याज पीएम केयर्स फंड के तहत भरा जाएगा।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
भारत के राज्य बिहार में सीओवीआईडी की पहली और दूसरी लहर में वायरस संक्रमण के कारण 9 जून 2021 तक 9429 मौतें हो चुकी हैं। 9 जून 2021 तक ये आंकड़ा 5478 का था जिसमें 3951 अतिरिक्त ...
मॉस्को की एक कोर्ट ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन के आलोचक एलेक्सी नवेनली के राजनीतिक संगठन को प्रतिबंधित कर दिया है और इसे 'चरमपंथी' बताया है। अगर इस संगठन का कोई कार्यकर्ता काम ...
 

खेल

 
न्यूज़ीलैंड का मुक़ाबला करने वाली विराट कोहली की टीम में तीन तेज़ गेंदबाज़ और दो स्पिनरों को जगह दी गई है। यानी भारत ने पांच गेंदबाज़ों को आजमाने का फ़ैसला किया है ...
 
शनिवार, 19 जून 2021 को भारत के राज्य पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मिल्खा सिंह के घर जाकर उनके परिवार को सांत्वना दी और उनके प्रति सम्मान जताया ...
 

देश

 
कपिल सिब्बल कांग्रेस के उन 23 नेताओं में शामिल थे जिन्होंने साल 2020 में पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर पार्टी में सार्थक सुधारों की मांग की थी और इसके बाद पार्टी में सियासी तूफान ...
 
युद्ध के इतिहास को समय से प्रकाशित होने पर लोगों को घटनाओं की सही जानकारी मिलेगी, शैक्षिक रिसर्च के लिए प्रमाणिक सामग्री उपलब्ध होगी और साथ ही इससे ग़ैर ज़रूरी अफ़वाहों को दूर करने में ...