• Name
  • Email
रविवार, 3 जुलाई 2022
 
 

अजीत डोभाल ने कहा, अग्निपथ योजना बिल्कुल वापस नहीं होगी

मंगलवार, 21 जून, 2022  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने समाचार एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में अग्निपथ योजना, सेना में बदलाव की ज़रूरत, राष्ट्रीय सुरक्षा, कश्मीर, चीन और पाकिस्तान के साथ संबंधों पर बात की।

उन्होंने अग्निपथ योजना को सेना और राष्ट्र की सुरक्षा के अहम बताया और कहा कि इसे वापस नहीं लिया जाएगा।

अजीत डोभाल ने कहा, ''ये योजना बिल्कुल वापस नहीं होगी। इस पर दशकों से बात हो रही है और नौजवान सेना की मांग हो रही है। हर किसी ने इसकी ज़रूरत महसूस की लेकिन उनमें इसे लागू करने की राजनीतिक इच्छा शक्ति और हिम्मत नहीं थी। 2007 में विदेश मंत्री ने इसे पूरी तरह नंज़रअंदाज किया।''

उन्होंने कहा कि इस योजना को लेकर भ्रम फैला हुआ है।

उन्होंने कहा, ''ये बिल्कुल भ्रम है कि अग्निवीरों का सम्मान नहीं होगा। इनका गाँव में ही नहीं बल्कि वहाँ से बाहर भी उतना ही सम्मान होगा। ये देश की बहुत बड़ी निधि होंगे। वो परिवर्तन को एक नई दिशा देंगे। कई लोगों को निजी कारणों से सेना को छोड़कर आना पड़ता है। क्या उनको सम्मान नहीं मिलता था। इन्हें तो और ज़्यादा मिलेगा क्योंकि उनके लिए आगे भी संभावनाएँ हैं।''

''जब भी कोई परिवर्तन आता है, उसके साथ जुड़े हुए डर, चिंताएँ और आकाक्षाएँ आती हैं। जैसे-जैसे लोगों को अधिक सूचना और बातों का पता चल रहा है वैसे-वैसे लोग इसे समझ रहे हैं। ये तो हमारी पुरानी आवश्यकता थी। वो राष्ट्र के प्रति समर्पित हैं और धीरे-धीरे उनकी चिंताएँ कम हो रही हैं।''

चार साल बाद सेवानिवृत्त होने वाले अग्निवीरो को लेकर उन्होंने कहा, ''इसे लेकर ग़लतफ़हमी है। हम एक नौजवान व्यक्ति की बात करते हैं जो 22-23 साल का है जिसने सेना में काम किया है और आप बाज़ार में है। वह अनुशासित होगा, उसमें टीम में काम करने की क्षमता, कौशल और आत्मविश्वास होगा। उसके लिए सारे रास्ते खुले होंगे। उनके पास 11 लाख रुपए भी हैं जिनसे वो आगे पढ़ सकते हैं और टेक्निकल कौशल भी हासिल कर सकते हैं।''

"इस देश के हर उस युवा को अवसर मिलता है जिसमें देश की रक्षा के लिए इच्छा और प्रेरणा है और प्रतिबद्धता की भावना है। उनकी ऊर्जा और प्रतिभा का इस्तेमाल इस देश को मजबूत बनाने में किया जाता है।''

कोचिंग सेंटर के शामिल होने को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा, ''विरोध प्रदर्शनों के मामले में एफ़आईआर की जाएगी, अभियुक्तों की पहचान होगी और जाँच के बाद हम बता पाएँगे कि इसके पीछे कौन था।''

अजीत डोभाल ने अग्निपथ योजना की ज़रूरत पर ज़ोर देकर कहा, "इस योजना को एक परिप्रेक्ष्य में देखने की ज़रूरत है। अग्निपथ अपने आप में एक अकेली योजना नहीं है। जब पीएम मोदी 2014 में सत्ता में आए थे उनकी एक प्राथमिकता ये थी कि भारत को सुरक्षित और मजबूत कैसे बनाएँ। इसके लिए कई क़दम उठाने की ज़रूरत है। विस्तार से देखें तो ये चार श्रेणियों में आता है - भविष्य को ध्यान में रखते हुए उपकरण, प्रणाली और ढाँचे में बदलाव, तकनीक में बदलाव, श्रमशक्ति और नीतियों में बदलाव।''

''सुरक्षा एक परिवर्तनशील विषय है, यह स्थिर नहीं रह सकता। ये उस माहौल से जुड़ा होता है जिसमें हमें अपने राष्ट्र हित और राष्ट्रीय संपत्ति की सुरक्षा करनी होती है। युद्ध के तरीक़े बदल रहे हैं। हम संपर्करहित युद्ध और अनेदखी सेना के साथ युद्ध की तरफ़ बढ़ रहे हैं। तकनीक तेज़ी से बदल रही है। अगर हमें कल के लिए तैयार होना है तो हमें आज बदलना होगा।''

उन्होंने कहा, ''सेना में जो लोग जाते हैं वो पैसे के लिए नहीं जाते। उनमें देशप्रेम, राष्ट्रभक्ति और यौवन की शक्ति होती है। अगर वो भावना नहीं तो आप इसके लिए नहीं बने हैं। शारीरिक क्षमताओं के साथ-साथ देश, नेतृत्व और समाज पर भरोसा रखें।''
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
ब्रिक्स देशों की बैठक में गुरुवार, 23 जून 2022 को अफ़ग़ानिस्तान और यूक्रेन के मुद्दे पर चर्चा हुई।
भारत के केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की नेता महबूबा मुफ्ती ने भारत के राज्य महाराष्ट्र के राजनीतिक घटनाक्रम के लिए बीजेपी ...
 

खेल

 
भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे अधिक रन बनाने वाली खिलाड़ी बन गई हैं। इससे पहले ये रिकॉर्ड भारतीय महिला क्रिकेट ...
 
मध्य प्रदेश ने अपने से कहीं ज़्यादा मज़बूत समझी जा रही और 41 बार की चैंपियन मुंबई को हरा कर रणजी ट्रॉफ़ी का ख़िताब जीत लिया है। यह पहला मौका है जब मध्य प्रदेश की ...
 

देश

 
भारत के राज्य केरल में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के वायनाड ऑफिस पर हमला हुआ है। आंध्र प्रदेश यूथ कांग्रेस ने हमले के लिए केरल की वामपंथी सरकार और एसएफ़आई कार्यकर्ताओं को ...
 
भारत के राज्य केरल में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के वायनाड ऑफिस पर शुक्रवार, 24 जून 2022 को हुए हमले की मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी ने निंदा करते ...