• Name
  • Email
सोमवार, 28 नवम्बर 2022
 
 

इसरो ने श्रीहरिकोटा से अब तक का सबसे भारी रॉकेट जीएसएलवी एमके-3 को लॉन्च किया

रविवार, 23 अक्टूबर, 2022  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (इसरो) ने रविवार, 23 अक्टूबर 2022 को श्रीहरिकोटा से अब तक का सबसे भारी रॉकेट जीएसएलवी एमके-3 को लॉन्च किया है।

रात 12 बजकर 7 मिनट पर इसरो ने वनवेब द्वारा विकसित 36 ब्रॉडबैंड कम्युनिकेशन सैटेलाइट लो अर्थ ऑबिट में भेजे हैं। सतीश धवन स्पेस सेंटर से इसे लॉन्च किया गया है।

इसका नाम एलवीएम3-एम2 कर दिया गया है। इसमें 36 वनवेब उपग्रह हैं। एलवीएम 3-एम2 रॉकेट 43.5 मीटर लंबा और 644 टन वज़नी है। यह 8 हज़ार किलो ग्राम वज़न ले जाने में सक्षम है।

वनवेब एक प्राइवेट सैटेलाइट कंपनी है जिसमें भारत की भारती ग्लोबल एक बड़ी हिस्सेदार है।

न्यू स्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) ने पहले इसरो के एलवीएम3 बोर्ड पर वनवेब लियो उपग्रहों को लॉन्च करने के लिए लंदन स्थित नेटवर्क एक्सेस एसोसिएटेड लिमिटेड (वनवेब) के साथ दो लॉन्च सर्विस के लिए कॉन्ट्रैक्ट किया था।

यह मिशन इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि एलवीएम3 का यह पहला कमर्शियल मिशन है और एनएसआईएल का इस रॉकेट में पहला लॉन्च है।

इसरो ने बताया कि इस मिशन में वनवेब की 36 सैटेलाइट का पेलोड है और यह भारत का पहला रॉकेट है जो 5796 किलोग्राम वज़न लेकर रवाना हुआ है।

एलवीएम3 एम2 तीन चरण वाला रॉकेट है। इसमें पहले चरण में तरल ईंधन से दो स्ट्रैप ठोस ईंधन द्वारा संचालित मोटर्स पर दूसरा तरल ईंधन द्वारा और तीसरा क्रायोजेनिक इंजन है।

इसरो के भारी लिफ्ट रॉकेट की क्षमता एलईओ तक 10 टन और जियो ट्रांसफर ऑर्बिट (जीटीओ) तक चार टन है।

इसरो ने बताया कि मिशन को न्यू स्पेस इंडिया लिमिटेड और ब्रिटेन स्थित नेटवर्क एक्सेस एसोसिएट्स लिमिटेड (वनवेब लिमिटेड) के बीच वाणिज्यिक व्यवस्था के हिस्से के रूप में चलाया जा रहा है।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
अमेरिकी सेना के शीर्ष जनरल मार्क मिले ने कहा है कि अगर चीन ताइवान पर हमला करता है तो ये उसके लिए एक रणनीतिक चूक होगी ...
अमेरिका की रिपब्लिकन पार्टी ने हाल ही में संपन्न हुए मध्यावधि चुनाव में अमेरिकी संसद की प्रतिनिधि सभा में अपना दबदबा कायम कर लिया है ...
 

खेल

 
क़तर में रंगारंग कार्यक्रम के साथ फ़ुटबॉल वर्ल्ड कप शुरू हो गया है ...
 
फ़ीफ़ा विश्व कप में दो बार के विश्व चैंपियन अर्जेंटीना पर सऊदी अरब की जीत के बाद बुधवार, 23 नवम्बर 2022 को एक और बड़ा उलट-फेर हुआ है। आज बारी जापान की थी ...
 

देश

 
भारत के मुख्य न्यायाधीश डीवाई चंद्रचूड़ ने शनिवार, 19 नवम्बर 2022 को कहा कि निचली अदालत के जज गंभीर मामलों में ज़मानत देने से बचते हैं क्योंकि उन्हें एक तरीके का डर ...
 
भारत के सुप्रीम कोर्ट ने अरुण गोयल को 19 नवंबर 2022 को चुनाव आयुक्त नियुक्त किए जाने के तरीके पर कड़ी नाराज़गी जताई है ...